दूसरों का काट रहे चालान, सरकार के 150 वाहनों का बीमा नही

शेयर करें

हजारीबाग : सड़क सुरक्षा अभियान से लेकर यातायात जागरूकता के तहत सड़कों पर आम लोगों को सीख दे रहे प्रशासनिक पदाधिकारी खुद नियम तोड़ रहे है। जिले में संचालित निजी वाहनों को छोड़ अधिकांश वाहनों का बीमा फेल है और सड़कों पर अधिकारियों को लेकर सरपट दौड़ रही है। बीमा फेल होने का खामियाजा सरकार के साथ साथ उन पदाधिकारी और वाहन चालकों को भी भुगतना पड़ता है, जो वाहन दुर्घटना के शिकार होते है। जिले में ऐसे करीब 150 से अधिक वाहन है जिनका बीमा की दूसरी किश्त आज तक नहीं भरी गई। सड़क पर दौड़ रहे ये वाहन थाना से लेकर उपायुक्त कार्यालय तक शामिल है। इन वाहनों में बीमा तो दूर की बात है समय पर सर्विसिग तक नहीं होती। प्रदूषण तो नई बात है।