पोषण माह के तहत समाज कल्याण विभाग द्वारा एक दिवसीय प्रशिक्षण

शेयर करें

हजारीबाग :- पोषण माह के तहत समाज कल्याण विभाग द्वारा ई-आई.एल.ए. पर सभी बाल विकास परियोजना पदाधिकारी एवं महिला पर्यवेक्षिकाओं को एक दिवसीय प्रशिक्षण सूचना भवन सभागार में दी गई। प्रशिक्षण के दौरान सभी महिला पर्यवेक्षिकाओं को ई-आई.एल.ए. माड्यूल 1 से 21 तक का प्रषिक्षण लेने का निदेष दिया गया। सभी को आई.डी. एवं पासवर्ड उपलब्ध कराते हुए ई-आई.एल.ए. माॅड्यूल के मापदण्ड के अनुसार प्रषिक्षण संपन्न कराने का निदेष दिया गया। साथ ही महिला पर्यवेक्षिकाएँ से आँगनबाड़ी सेविकाओं को जल्द-से-जल्द प्रषिक्षण दिलाने का निदेष दिया गया। जिला स्तर पर सुजाता कुमारी, बाल विकास परियोजना पदाधिकारी, बरही एवं सभी परियोजना से एक-एक महिला पर्यवेक्षिकाओं को पोषण अभियान के नोडल के रूप में प्रतिदिन कार्यक्रम के अनुश्रवण का निदेष दिया गया। महिला पर्यवेक्षिकाओ को भी आँगनबाड़ी सेविकाओं को भी ई.आई.एल.ए. का आईडी एवं पासवर्ड उपलब्ध करते हुए प्रषिक्षण देने का निदेष दिया गया। प्रषिक्षण के क्रम में जिला समाज कल्याण पदाधिकारी शिप्रा सिन्हा द्वारा ई.आईएलए के प्रषिक्षण को निर्धारित समय सीमा में परियोजना स्तर पर संपन्न कराने का निदेष दिया गया। जिलान्तर्गत सभी कुपोषित बच्चों की पहचान करते हुए नियमित अनुश्रवण कर उनका विवरण पोषण पंजी में संधारित करने के कार्य को ससमय पूर्ण करने का निदेष दिया। उन्होंने गुगल शीट में जिलान्तर्गत सभी अति गंभीर कुपोषित एवं अल्प कुपोषित बच्चों का डाटा आॅनलाईन इंट्री दिनांक-25.09.2020 तक पूर्ण करने का निदेष दिया। प्रषिक्षण में डल्ब्यूएचओ के मानक के अनुरूप कुपोषित बच्चों के पहचान से संबंधित चार्ट महिला पर्यवेक्षिकाओं के बीच वितरण किया गया। प्रषिक्षण में प्लान इंडिया के शुभांकर बनर्जी, बड़कागाँव परियोजना की महिला पर्यवेक्षिका पूजा राय ने भी ई-आईएलए पर विस्तृत जानकारी दी। साथ ही पोषण माह अन्तर्गत होने वाले पोषण कार्यक्रम/गतिविधि को पोषण डैषबोर्ड पर आॅनलाईन इंट्री करने का निदेष दिया गया। इस अवसर पर जिला के सभी बाल विकास परियोजना पदाधिकारी, महिला पर्यवेक्षिकाएँ उपस्थित थी।