मेडिकल कॉलेज की छात्रा का शव बरामदगी मामले में पुलिस ने किया खुलासा

शेयर करें

हज़ारीबाग :- गोड्डा की रहने वाली हजारीबाग मेडिकल कॉलेज में पढ़ने वाली प्रथम वर्ष की छात्रा जिसका शव रामगढ़ जिले के पतरातू डैम से कुछ दिन पूर्व पाया गया था। उस मामले में आज हजारीबाग रेंज के डीआईजी रामगढ़ के एसपी एवं हजारीबाग के एसपी के द्वारा संयुक्त प्रेस वार्ता कर खुलासा किया गया है। खुलासे में बताया गया है कि एसआईटी के गठन के उपरांत गहनता से छानबीन की गई तत्पश्चात उभर कर सामने यही आई है कि छात्रा के द्वारा आत्महत्या किया गया है। आत्महत्या के बिंदुओं के बारे में विस्तार से चर्चा करते हुए पुलिस अधीक्षक ने बताया कि जहां छात्रा का शव पाया गया था। वहां से नायलॉन की रस्सी और कैंची पाया गया है इसके साथ ही छात्रा के रूम से डस्टबिन से हस्तलिखित चिट्ठियां पाई गई है। जिसमें भी अपने जीवन को समाप्त करने संबंधी लिखित दस्तावेज पाए गए हैं सबसे गौर करने वाली बात यह है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में कहीं से भी सेक्सुअल हरासमेंट की बात सामने नहीं आई। इसके अलावा शरीर पर कहीं भी कोई मारपीट या खरोच के निशान नहीं पाए गए इन सभी तथ्यों के अनुसार अब तक पुलिस आत्महत्या पर ही पहुंच पाई है। हालांकि जांच अन्य बिंदुओं पर आगे भी जारी रखने की बात कही गई है ।