पुलवामा हमले की दूसरी बरसी पर कई स्वयंसेवी संस्थाओं ने मनाया बलिदान दिवस

शेयर करें

शहीद स्मारक में जुटे सैकड़ों लोग, अनाम शहीदों को किया मौन सलाम ----------- पुलवामा आतंकी हमले की दूसरी बरसी पर रविवार को स्वयंसेवी संस्था दिशा साईं फाउंडेशन, दीपू गढ़ा द्वारा इसे बलिदान दिवस के रूप में मनाया गया। रविवार की अहले सुबह संस्था सदस्य और समर्थक दर्जनों की संख्या में परिसदन के बगल में अवस्थित शहीद स्मारक पहुंचे और यहां फूल चढ़ाकर शहीदों की शहादत को सलाम और नमन किया। लोगों ने दो मिनट का मौन रखकर शहीदों की आत्मा की शांति की कामना की और उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित किया। उपस्थित सभी लोगों ने भारत माता की सुरक्षा मरते दम तक करने का संकल्प भी लिया। मौके पर संस्था प्रमुख कुमार गौरव ने कहा कि वेलेंटाइन डे के दिन पुलवामा हमले में सीआरपीएफ के 44 जवानों की शहादत को हम कभी भुला नहीं सकते हैं। विधायक मीडिया प्रतिनिधि रंजन चौधरी ने कहा कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद के दृश्य को देख हर भारतीय की आत्मा विचलित हो गई थी। खून से सड़कें सन गई थी। धमाका इतना तेज था कि सेना की गाड़ी के परखच्चे उड़ गए थे।जगह-जगह मलबे और शवों के टुकड़े बिखरे पड़े थे। हमारे वायुसेना के जवानों ने इस आतंकी हमले का बदला भी लिया था। उन्होंने कहा कि हमें गर्व है कि हम वैलेंटाइन डे नहीं बल्कि बलिदान दिवस के रूप में इस दिन को मनाते हैं और देश की अस्मिता की रक्षा में शहादत हुए शहीदों को याद करते हैं । मौके पर विशेष रूप से वरिष्ठ पत्रकार श्रीकांत शर्मा, भाजपा नगर पूर्वी मंडल अध्यक्ष पंकज गुप्ता, संजय शरण, एनएस की दुनिया के संचालक निशांत सोनी, रिंकु वर्मा, बबलु सोनी, मंटु सिंह, पप्पू सिंह, अमित कुमार, राजीव कुमार, मंटू कुमार, रंजन कुमार, अनुज कुमार, बबलू कुमार सिंह, मुंसी यादव, श्याम यादव, पप्पू सिंह, विशाल कुमार, उत्कर्ष, सक्षम चौधरी उर्फ़ बजरंगी सहित अन्य दर्जनों लोग उपस्थित रहे।